ऐसे बचा आयुष कार्डियोलॉजी चित्रकूट से हार्ट स्टेंट/बाईपास सर्जरी से!!


घटना अक्टूबर २०१७ की है,  मुझे अचानक सीने में दर्द उठा, मैं शुगर मेरे घर के लोग मुझे बैकुण्ठपुर के ही एक डॉक्टर के पास ले गये, उन्होंने कुछ अंग्रेजी दवायें देकर रीवा रिफर कर दिया। मैं रीवा गया और डॉ. के. डी. सिंह जी के पास गया, उन्होंने खून की जाँचें करवायीं और अंग्रेजी दवायें दीं। मुझे दर्द में हल्का आराम तो मिला लेकिन जब १ माह तक रीवा की अंग्रेजी दवायें खाते ही और ज्यादा दिक्कत होने लगी। मेरी श्वास बहुत फूलने लगी, थोड़ी भी दूर चल नहीं पाने लगे, दर्द तो सीने में असहनीय होने लगा।


तभी मुझे नागपुर में बोकार्ड हॉस्पिटल ले जाया गया। वहाँ पर डॉक्टर ने इकोकरवाया, एंजियोग्राफी करवायी और जाँच आने के बाद डॉक्टर साहब को दिखाया, उन्होंने बताया कि आपके हार्ट में तीन ७०%, ८०%, १००% ब्लॉकेज हैं और ४०%  ही पंपिंग (Lvef) है। आप जितना भी जल्दी हो सके आप ऑपरेशन करवाकर स्टेंट डलवा लीजिए नहीं तो हार्ट अटैक से कभी भी मौत हो सकती है। खर्च बताया लाखों में। मेरे पास इतना खर्च करने की हिम्मत नहीं थी सो जो होना होगा वह होगा ऐसा मानकर कुछ दवायें लेकर घर (रीवा) आ गया। सभी लोग परेशान थे। डर था कि कभी भी क्या न हो जाये।


आयुष ग्राम चित्रकूट में उपचार से पूर्व की रिपोर्ट LVEF  -  ४० %

तभी मेरी एक व्यक्ति से मुलाकात हुयी, उन्होंने मुझे आयुष ग्राम (ट्रस्ट), चित्रकूट की आयुष कार्डियोलॉजी के बारे में बताया, उन्होंने कहा कि मैं भी आपकी तरह परेशान था और चित्रकूट आयुष ग्राम की आयुष कार्डियोलॉजी से इलाज कराया, अब पूरी तरह ठीक हूँ, न ऑपरेशन, न स्टेंट। केवल १० दिन वहाँ रहना पड़ा, कुछ थैरापी दी गयीं, अब दवायें भी बन्द हैं।



मैं दूसरे दिन ही आयुष ग्राम ट्रस्ट के चिकित्सालय, चित्रकूट पहुँचा। मेरा रजिस्ट्रेशन हुआ फिर मेरा नम्बर आने पर मुझे कार्डियोलॉजी विभाग के डॉक्टर मदनगोपाल वाजपेयी जी के पास बुलाया गया। उन्होंने सभी समस्यायें पूछीं और सभी जाँचें देखीं, फिर कहा कि आप बिल्कुल परेशान न हों, हम आपको बिना ऑपरेशन के पूर्णत: स्वस्थ करेंगे। उन्होंने १० दिन तक यहाँ रुककर कुछ थैरापी जैसे मालिश, पादाभ्यंग, बस्ति आदि हुयी, बहुत ही चामत्कारिक रिजल्ट आया। १० दिन में साँस फूलना, छाती का दर्द, कमजोरी मिट गयी, अंग्रेजी दवाइयाँ बन्द हो गयीं, डर खत्म हो गया, हार्ट के ऑपरेशन या स्टेंट का।



१२ माह बाद सभी दवायें बन्द हो गयीं। अब मैं पूरी ताकत से पहले से ज्यादा काम करता हूँ। बात यह है कि मुझे शुगर भी था, तो यहाँ के इलाज से मेरा पैंक्रियाज भी काम करने लगा और शुगर नार्मल रहने लगी। अन्यथा अंग्रेजी डॉक्टर कहते थे कि कभी आपका शुगर नार्मल ही नहीं होगा।

आयुष ग्राम चित्रकूट में उपचार के बाद की रिपोर्ट  LVEF  -  ६० %
मैं आयुष ग्राम चित्रकूट की आयुष कार्डियोलॉजी में आकर कभी-कभी दिखाता रहता हूँ। अभी मैंने ९ दिसम्बर २०१९ को मैंने इको कार्डियोग्राफी करायी तो अंग्रेजी डॉक्टर भी देखकर हैरान रह गये, मेरा Lvef ५५ - ६०% हो गया था। डॉक्टरों ने हार्ट की सर्जरी कहकर मरने की बात कह दी और आज मैं सब नार्मल हूँ। मैं तो यही कहता हूँ कि मेरी तरह कोई भी हार्ट रोग से परेशान हो और डॉक्टर ऑपरेशन या स्टेंट की बात करें तो पहले आयुष ग्राम की आयुष कार्डियोलॉजी, चित्रकूट पहुँचें। आप भी मेरी तरह ठीक होंगे ऐसी आशा रखें।

मैं और मेरा पूरा परिवार बहुत खुश है कि मैं बिना ऑपरेशन के पूर्णत: स्वस्थ्य हो गया हूँ। सभी रिपोर्ट्स नार्मल हो गयीं।

शशिकान्त मिश्रा,
बैकुण्ठपुर, जिला- रीवा (म.प्र.) 




डॉ. मदन गोपाल वाजपेयी
डॉ. मदन गोपाल वाजपेयी एक प्रख्यात आयुर्वेद विशेषज्ञ हैं। शास्त्रीय चिकित्सा के पीयूष पाणि चिकित्सक और हार्ट, किडनी, शिरोरोग (त्रिमर्म), रीढ़ की चिकित्सा के महान आचार्य जो विगड़े से विगड़े हार्ट, रीढ़, किडनी, शिरोरोगों को शास्त्रीय चिकित्सा से सम्हाल लेते हैं । आयुष ग्राम ट्रस्ट चित्रकूटधाम, दिव्य चिकित्सा भवन, आयुष ग्राम मासिक, चिकित्सा पल्लव और अनेकों संस्थाओं के संस्थापक ।


इनके शिष्यों, छात्र, छात्राओं की लम्बी सूची है । आपकी चिकित्सा व्यवस्था को देश के आयुष चिकित्सक अनुशरण करते हैं ।

निशि चात्ययिके कार्ये दण्डीमौली सहायवान ।।
अ.हृ.सू. २/३२
रात्रि में किसी प्रयोजनवश बाहर जाना हो, तो हाथ में डंडा लेकर तथा सिर पर पगड़ी बाँधकर किसी सहयोगी को साथ में लेकर जाना चाहिए ।


डॉ. अर्चना वाजपेयी

डॉ. अर्चना वाजपेयी एम.डी. (मेडिसिन आयु.) में हैं आप स्त्री – पुरुषों के जीर्ण, जटिल रोगों की चिकित्सा में विशेष कुशल हैं । मृदुभाषी, रोगी के प्रति करुणा रखकर चिकित्सा करना उनकी विशिष्ट शैली है । लेखन, अध्ययन, व्याख्यान, उनकी हॉबी है । आयुर्वेद संहिता ग्रंथों में उनकी विशेष रूचि है ।


आयुष ग्राम ट्रस्ट चित्रकूट द्वारा संचालित
   
आयुष ग्राम चिकित्सालय:चित्रकूट 
   मोब.न. 9919527646, 8601209999
 website: www.ayushgram.org



  डॉ मदन गोपाल वाजपेयी        आयुर्वेदाचार्यपी.जी. इन पंचकर्मा (V.M.U.) एन.डी.साहित्यायुर्वेदरत्न,विद्यावारिधि (आयुर्वेद)एम.ए.(दर्शन),एम.ए.(संस्कृत )
 प्रधान सम्पादक चिकित्सा पल्लव
                                  
डॉ अर्चना वाजपेयी                              एम.डी.(कायचिकित्सा) आयुर्वेद 

डॉ परमानन्द वाजपेयी                                                                   आयुर्वेदाचार्य



डॉ आर.एस. शुक्ल                                                                           आयुर्वेदाचार्य 

Post a Comment

0 Comments