हार्ट के ऑपरेशन/स्टेंट से बच गया : आयुष चिकित्सा से!!


मेरा नाम मोहम्मद शरफुद्दीन है, सेवा आश्रम कुठुलिया, जिला- रीवा (म.प्र.) का रहने वाला हूँ। मेरी उम्र ५७ वर्ष है।

मोहम्मद शरफुद्दीन

           
पिछले १२ सालों से हाई ब्लडप्रेशर की शिकायत थी। अंग्रेजी दवा खाता रहा। ९ माह पहले मेरी श्वास फूलने लगी और सीने में भारीपन रहने लगा, मैंने रीवा में एक डॉक्टर को दिखाया, उन्होने जाँचें करवायीं और १० दिन तक भर्ती रखा, कुछ भी आराम न मिलने पर नागपुर के लिये रिफर कर दिया, मुझे नागपुर में दिखाया गया, वहाँ एंजियोग्राफी हुई और डॉक्टरों ने ऑपरेशन या स्टेंट डलवाने के लिये बोला, मैं यह सब नहीं करवाना चाहता था। परेशान रहने लगा और डरता था कि कब कुछ हो न जाये पर स्टेंट या ऑपरेशन नहीं करवाना चाहता था।

            तभी न्यूज पेपर (स्टार समाचार) से मुझे आयुष ग्राम चित्रकूट के बारे में पता चला, मैं तुरन्त दूसरे दिन ही आयुष ग्राम ट्रस्ट (चिकित्सालय) पहुंचा, वहाँ पर ओपीडी चल रही थी, बहुत भीड़ थी, अपना नम्बर आने पर डॉक्टर साहब ने देखा और कहा कि आप परेशान बिल्कुल मत हों आपको किसी तरह का कोई ऑपरेशन/स्टेंट नहीं करवाना प़ड़ेगा और १०-१२ माह दवा सेवन से ठीक हो जायेंगे।


            मैं जब चित्रकूट पहुँचा था तो मैं सीढ़ी बिल्कुल नहीं चढ़ पाता था, श्वास बहुत फूल रही थी, कमजोरी बहुत थी, मेरी ढेर सारी अंग्रेजी दवा चल रही थी। यहाँ मुझे कुछ थैरापी दी गयी और खान-पान सुधार किया गया तथा आयुष चिकित्सा की गयी। नतीजा यह रहा कि मुझे १ माह में ही मुझे बहुत आराम मिला। मेरी सभी एलोपैथ की दवा बन्द हो गयी और ६ माह के कोर्स से अब मुझे ९५ % से भी ज्यादा आराम है।



            मेरी एलोपैथ की दवायें बन्द हो गयीं, वी.पी. भी नॉर्मल हो गया, मेरी श्वास फूलना बन्द हो गयी अब मैं आसानी से सीढ़ियां उतर-चढ़ सकता हूँ इसलिये मैं और मेरा परिवार आभार व्यक्त करता है और मैं बिना ऑपरेशन और स्टेंट के पूर्णत: स्वस्थ हूँ। मैं चाहता हूँ कि सभी को मेरी तरह लाभ हो और स्टेंट तथा ऑपरेशन से बचें।


 मोहम्मद शरफुद्दीन
 सेवा आश्रम कुठुलिया,
 रीवा (म.प्र.)


मैं मोहम्मद शरफुद्दीन उम्र ५७ वर्ष, सेवा आश्रम कुठुलिया, रीवा (म.प्र.) से हूँ।
            १२ वर्ष से हाई ब्लडप्रेशर, श्वास, सीने में भारीपन था। रीवा और नागपुर का इलाज चलता रहा। नागपुर में एंजियोग्राफी कर ब्लॉकेज बताया और स्टेंट डालने के लिये कहा।
            स्टार समाचार से मुझे चित्रकूट आयुष ग्राम (ट्रस्ट) चिकित्सालय का पता चला। यहाँ से १ माह में ही आराम मिल गया। ६ माह में ९० % ठीक।
            हार्ट रोगियों को बिना स्टेंट/ऑपरेशन वैज्ञानिक विकल्प है। आप भी लाभ उठायें। ऑपरेशन/स्टेंट से बचेंगे।



भक्त्या कल्याण मित्राणि सेवेतेतरदूरग:
                                             अ.ह्र.सू. २/२१ 
कल्याण प्रद मित्रों का श्रद्धा भक्ति से सेवन करें इसके विपरीत चरित्र वालों से दूर रहें  




डॉ. मदन गोपाल वाजपेयी


डॉ. मदन गोपाल वाजपेयी एक प्रख्यात आयुर्वेद विशेषज्ञ हैं। शास्त्रीय चिकित्सा के पीयूष पाणि चिकित्सक और हार्ट, किडनी, शिरोरोग (त्रिमर्म), रीढ़ की चिकित्सा के महान आचार्य जो विगड़े से विगड़े हार्ट, रीढ़, किडनी, शिरोरोगों को शास्त्रीय चिकित्सा से सम्हाल लेते हैं । आयुष ग्राम ट्रस्ट चित्रकूटधाम, दिव्य चिकित्सा भवन, आयुष ग्राम मासिक, चिकित्सा पल्लव और अनेकों संस्थाओं के संस्थापक ।

इनके शिष्यों, छात्र, छात्राओं की लम्बी सूची है । आपकी चिकित्सा व्यवस्था को देश के आयुष चिकित्सक अनुशरण करते हैं ।


आयुष ग्राम ट्रस्ट चित्रकूट द्वारा संचालित
   
आयुष ग्राम चिकित्सालय:चित्रकूट 
   मोब.न. 9919527646, 8601209999
 website: www.ayushgram.org



  डॉ मदन गोपाल वाजपेयी        आयुर्वेदाचार्यपी.जी. इन पंचकर्मा (V.M.U.) एन.डी.साहित्यायुर्वेदरत्न,विद्यावारिधिएम.ए.(दर्शन),एम.ए.(संस्कृत )
 प्रधान सम्पादक चिकित्सा पल्लव
                                  
डॉ अर्चना वाजपेयी                              एम.डी.(कायचिकित्सा) आयुर्वेद 

डॉ परमानन्द वाजपेयी                                                                   आयुर्वेदाचार्य


डॉ आर.एस. शुक्ल                                                                           आयुर्वेदाचार्य 




Post a Comment

0 Comments