यदि पार्किंसन जैसे दिमागी रोगों से बचना और बचाना है तो अंग्रेजी दवा छोड़ें चलो देश के आयुष की ओर !!

एक नए अध्ययन का दावा है कि एंटीबायोटिक दवाओं के अधिक सेवन से पार्किंसन दिमागी रोग का खतरा बढ़ सकता है, इस बीमारी में पीड़ित व्यक्ति के हाथ - पैर कांपने लगते हैं और उसे संतुलन बनाने में मुश्किल आती है 



इसलिए यदि पार्किंसन जैसे दिमागी रोगों से बचना और बचाना है तो अंग्रेजी दवा छोड़ें चलो देश के आयुष की ओर !!

Post a Comment

0 Comments