जब रीढ़ का ऑपरेशन बताये तो आयुष चिकित्सा में पहुँचें

जवाहर लाल बाधवानी 


लगभग ३ साल पहले मेरे शरीर में दर्द रहता था, काम इतना था कि आराम मिल ही नहीं पा रहा था, मैं कई चीजों में उलझा रहता था इसलिये मैं अपने लिये समय नहीं निकाल पाता था। दर्द की कोई अंग्रेजी दवा ले लेता तो थोड़ी देर के लिये आराम मिल जाता। मुझे खड़े होने में बहुत दिक्कत थी, दाहिने साइड से मैं झुक गया था। मैं झुककर चलता था। अंग्रेजी अस्पतालों के चक्कर काटता रहा पर सब जगह ऑपरेशन के लिये कहा जाता था लेकिन उसकी भी कोई गारण्टी नहीं थी।

तभी एक मित्र द्वारा मुझे आयुष ग्राम (ट्रस्ट) चिकित्सालय, चित्रकूट के बारे में पता चला कि यहाँ बिना ऑपरेशन रीढ़ की बीमारियों का सफल इलाज हो रहा है। मैं २५ अक्टूबर २०१७ को चित्रकूट पहुँचा, मैंने देखा कि बहुत बड़ा आयुष का हॉस्पिटल है। मेरा पर्चा बना, जाँच हुयी। मेरी नाड़ी देखी गयी और एक सिक्के को जमीन में डालकर उठाने को कहा गया। फिर डॉक्टर साहब ने कहा कि आपको आपरेशन नहीं कराना पड़ेगा। हर महीने १० प्रतिशत आराम मिलेगा, ३ माह में लगभग आप काफी अच्छे हो जायेंगे। ६ से ८ माह तक का कोर्स करके आपकी सारी दवाइयाँ बन्द हो जायेंगी। डॉक्टर साहब ने कहा कि आपको बेड रेस्ट नहीं करना, कुछ न कुछ सक्रिय रहें। केवल वजन न उठायें और कठोर बिस्तर में लेटें। भोजन पौष्टिक करें तथा भूखे न रहें। रात का भोजन सोने के २ घण्टे पहले कर लें।
मुझे दवाइयाँ लिखी गयीं तथा कटिबस्ति आदि किया गया। मैं एक महीने में ही बहुत अच्छा महसूस करने लगा यह लगने लगा कि अब मैं बच जाऊँगा और कोई ऑपरेशन नहीं कराना पड़ेगा। ५ महीने तक में मैं ऐसा लाभ हो गया, ऐसा लगने लगा कि मुझे कोई रोग था ही नहीं। फिर भी, मैंने पूरा कोर्स किया और आज मैं पूरी तरह से स्वस्थ हूँ। मुझे रीढ़ के आपरेशन की जरूरत नहीं पड़ी तथा मेरा शरीर भी स्मार्ट हो गया, मुझमें पहले से अधिक फुर्ती आ गयी।

            मैं सभी को संदेश देना चाहता हूँ कि यदि कोई डॉक्टर रीढ़ के ऑपरेशन की बात करें और डरवाये तो आप डरे नहीं तथा आयुष ग्राम (ट्रस्ट) चिकित्सालय, चित्रकूट पहुँचें। मुझे पूरा भरोसा है कि यदि आप पूरा कोर्स करेंगे तो डॉक्टर साहब के निर्देशानुसार चिकित्सा करेंगे तो मेरी तरह निरोग होंगे। आयुष ग्राम (ट्रस्ट)  चित्रकू में भारत के प्राचीन चिकित्सा वैज्ञानिक चरक, धन्वन्तरि की विधि से सभी रोगों को निर्मूल किया जाता है, सुयोग्य डॉक्टर, नर्स और कम्पाउण्डरों की अच्छे टीम कार्य कर रही है।
जवाहर लाल बाधवानी पुत्र श्री नानक राम बाधवानी
व्यौहारी, जिला- शहडोल (म.प्र.)
मोबा.नं.- ९४२५८३१७६८



सूचना र्म रोगों की आयुर्वेदीय चिकित्सा पर एक सेमिनार :



आयुष ग्राम ट्रस्ट चित्रकूट द्वारा धन्वन्तरी पखवाड़ा के अवसर पर शनिवार दिनाँक ९ नवम्बर २०१९ को '' चर्म रोगों की आयुर्वेदीय चिकित्सा कैसे हो '' विषय पर आयुर्वेद संगोष्ठी का आयोजन किया जा रहा है | इस कार्यक्रम में भाग लेने के इच्छुक चिकित्सक मो. / व्हाटसएप्प ६३८८०६७००५८००९२२२१३८ पर अपना पंजीकरण करायें ||



आयुष ग्राम ट्रस्ट चित्रकूट द्वारा संचालित
   
आयुष ग्राम चिकित्सालय:चित्रकूट 
   मोब.न. 9919527646, 8601209999
 website: www.ayushgram.org



  डॉ मदन गोपाल वाजपेयी        आयुर्वेदाचार्यपी.जी. इन पंचकर्मा (V.M.U.) एन.डी.साहित्यायुर्वेदरत्न,विद्यावारिधिएम.ए.(दर्शन),एम.ए.(संस्कृत )
 प्रधान सम्पादक चिकित्सा पल्लव
                                  
डॉ अर्चना वाजपेयी                              एम.डी.(कायचिकित्सा) आयुर्वेद 

डॉ परमानन्द वाजपेयी                                                                   आयुर्वेदाचार्य


डॉ आर.एस. शुक्ल                                                                           आयुर्वेदाचार्य 




Post a Comment

0 Comments