पन्द्रह दिन में डायलेसिस छूटी, आयुष ग्राम ट्रस्ट चित्रकूट से !!


प्रमोद सोनी साथ में उनका भाई और बहन 
मेरे बड़े भाई प्रमोद कुमार सोनी उम्र ४० वर्ष एटा निवासी नोयडा में सुपरवाइजर की पोस्ट में थे। जन्माष्टमी के २ दिन पहले उन्हें जुकाम-बुखार हुआ जिसमें मेडिकल स्टोर से अंग्रेजी दवा लेकर खा लिये जिससे इन्हें उल्टी-दस्त की शिकायत हो गयीतब इन्हें सफदरजंग हॉस्पिटल में एडमिट कराया काफी बोतल चढ़ी लेकिन स्थिति में कोई सुधार नहीं थाएटा में डॉ॰ निर्मल जैन की भी दो दिन दवा चली लेकिन फायदा न थाजब सारी जाँच कराई तब रिपोर्ट में यूरिया २१९, क्रेटनीन १२.७ व यूरिक एसिड १३बढ़ा पाया गया। रिपोर्ट देखते ही डॉक्टर साहब ने आगरा के लिये रिफर कर दियाबोले डायलेसिस करानी पड़ेगी। आगरा में कुसुम नर्सिंग होम में डायलेसिस शुरू हो गयीजिस दिन चौथी  डायलेसिस होनी थी तभी एक सज्जन ने हमें आयुष ग्राम चिकित्सालय चित्रकूट का पता बताया बोले आप यहाँ डायलेसिस कराने से अच्छा आयुष ग्राम ट्रस्ट चित्रकूट के चिकित्सालय में जाइये वह आयुर्वेद का बहुत बड़ा संस्थान है। वहां से आप डायलेसिस से बाख जायेंगे हम चौथी डायलेसिस के बाद पहले चित्रकूट को रवाना हुये। हम २८ सितम्बर (दिन शनिवार) को पहुंचे। इस दिन डॉ॰ अर्चना वाजपेयी एम.डी.(आयु.कायचिकित्सा) मैडम की ओपीडी थीमैडम ने अपनी पद्धति के अनुसार भाई का अच्छे से परीक्षण किया। किडनी की जाँच कराईरिपोर्ट आने के बाद उन्होंने बताया कि प्रमोद जी की बीमारी अभी एक्यूट किडनी फेल्योर हैयह पूरी तरह से ठीक हो सकती हैइन्हें अंतरंग विभाग में रखकर पंचकर्मपथ्य, और औषधि सेवन कराया जायेगा, देख रेख की जाएगी जिससे  प्रमोद जी पूर्णत: स्वस्थ हो जायेंगे। डायलेसिस की भी कोई आवश्यकता नहीं है। हमने भाई को भर्ती करा दिया।



            आयुष ग्राम ट्रस्ट चित्रकूट का मनोरम वातावरणगोसेवाशुद्ध सात्विक भोजनवैदिक मंत्रों के उच्चारण सुनकर हमें पहले से एहसास होने लगा कि हमारे भाई यहाँ से ठीक होकर ही जायेंगे अगले दिन से नर्स ने भाई के दिनचर्या सेट कर दी एक सप्ताह के इलाज से इतना आराम मिला जैसे कोई मर्ज था ही नहीं। पन्द्रह दिन में सारी रिपोर्ट नॉर्मल हो गयी।


डायलेसिस के समय की रिपोर्ट :




पंचकर्म के दौरान की रिपोर्ट : 



पंचकर्म के बाद की रिपोर्ट :



मैं आयुष ग्राम के संस्थापक डॉ. मदन गोपाल वाजपेयी जी जो लोककल्याण के लिए आयुर्वेद के क्षेत्र में इतना काम कर रहे हैं और सभी स्टाफ का आभार व्यक्त करता हूँ  


अनिल कुमार 
न. धनि एटा (उ.प्र.)
मोब न. 9643350316

सूचना र्म रोगों की आयुर्वेदीय चिकित्सा पर एक सेमिनार :

आयुष ग्राम ट्रस्ट चित्रकूट द्वारा धन्वन्तरी पखवाड़ा के अवसर पर शनिवार दिनाँक ९ नवम्बर २०१९ को '' चर्म रोगों की आयुर्वेदीय चिकित्सा कैसे हो '' विषय पर आयुर्वेद संगोष्ठी का आयोजन किया जा रहा है | इस कार्यक्रम में भाग लेने के इच्छुक चिकित्सक मो. / व्हाटसएप्प ६३८८०६७००५८००९२२२१३८ पर अपना पंजीकरण करायें ||



आयुष ग्राम ट्रस्ट चित्रकूट द्वारा संचालित
   
आयुष ग्राम चिकित्सालय:चित्रकूट 
   मोब.न. 9919527646, 8601209999
 website: www.ayushgram.org



  डॉ मदन गोपाल वाजपेयी        आयुर्वेदाचार्यपी.जी. इन पंचकर्मा (V.M.U.) एन.डी.साहित्यायुर्वेदरत्न,विद्यावारिधिएम.ए.(दर्शन),एम.ए.(संस्कृत )
 प्रधान सम्पादक चिकित्सा पल्लव
                                  
डॉ अर्चना वाजपेयी                              एम.डी.(कायचिकित्सा) आयुर्वेद 

डॉ परमानन्द वाजपेयी                                                                   आयुर्वेदाचार्य


डॉ आर.एस. शुक्ल                                                                           आयुर्वेदाचार्य 


Post a Comment

0 Comments